Pratapgarh

An unofficial website of district Pratapgarh, UP, India

Blogs

दर्द देख जब रो मै पड़ता

---------------------------------

बूढ़े जर्जर नतमस्तक हो  

हमका बनाऊ की बिगाडू मोरी माई

 तुहिन कहू बड़े भाग से पाये 

आज सूरज बड़ी देर कुछ आंक निकला

 आज सूरज बड़ी देर कुछ आंक निकला

दुःख ही दुःख का कारण है

 दुःख ही दुःख का कारण है
दिल पर एक बोझ है
मन मष्तिष्क पर छाया कोहराम है
आँखों में धुंध है
पाँवो की बेड़ियाँ हैं
हाथों में हथकड़ी है
धीमा जहर है
विषधर एक -ज्वाला है !!
राख है – कहीं कब्रिस्तान है
तो कहीं चिता में जलती
जलाती- जिंदगियों को
काली सी छाया है !!
फिर भी दुनिया में
दुःख के पीछे भागे
न जाने क्यों ये
जग बौराया है !!

ममता की तू मूरति माता

 हे अनाथ की नाथ -प्राण हे  

भाग्य विधाता -जग कल्याणी  

IOB HAS COME TO DOMINATE OTHER BANK

Indain overseas bank is being known for its rich customer service.Bank has already made its soft opening on 2.2.11 at Chawla arcade Bhangwa Chungi.Soon we are going to capture the market from other bank as we offer a better and customer centric services that includes a wide variety of e-services (Internet Banking,Mobile Banking,Sms alerts for your all Debit/Credit in your accounts).

Syndicate content